कोशिश से संसार में निर्बल सबल हुआ”सागर”.!
लंगड़ों ने भी तैर पार किया बहता हुआ सागर.!!

Filed under:

Source:: Mehfil101